ज़िंदगी WhatsApp के Last Seen जैसी है, सबको अपनी छिपानी है दूसरो की देखनी है..
ज़िंदगी WhatsApp के Last Seen जैसी है, सबको अपनी छिपानी है दूसरो की देखनी है..